महात्मा गांधी और बलिया

Shubhneet Kaushik फरवरी 1922 में महात्मा गांधी ने गुजराती पत्रिका ‘नवजीवन’ में एक लेख लिखा, शीर्षक था ‘बलिया में दमन’।

Read more

चौरी चौरा : इतिहास और स्मृति के गलियारे से

Shubhneet Kaushik इतिहासकार शाहिद अमीन की किताब ‘इवैंट, मेटाफर, मेमोरी चौरी चौरा 1922-1992’, महज़ असहयोग आंदोलन के दौरान 1922 में

Read more

जब गोडसे ने रोते हुए तीन बार कहा “महात्मा, महात्मा, महात्मा गाँधी”

हफ़ीज़ किदवई अर्रे मुझसे छुप क्यों रहे हो, मेरे करीब आओ, मेरे पास बैठो। तुमने मुझे गोली मारी, मुझे ज़रा

Read more

महात्मा गांधी और काशी नागरी प्रचारिणी सभा

Shubhneet Kaushik फरवरी 1916 में महात्मा गांधी बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी के स्थापना समारोह में भाग लेने हेतु बनारस आए। इस

Read more

गांधी क्युं नही चाहते थे के मौलाना आज़ाद बने आज़ाद भारत के पहले शिक्षामंत्री ??

  Majid Majaz 24 जुलाई 1947 को गांधी जी ने नेहरु को ख़त लिखकर उसमें बाकायदा कहा था कि अपने

Read more
Translate »