Archive

Month: April 2019

आख़िर जालियांवाला बाग़ क़त्ल ए आम ही अंग्रेज़ों के ज़ुल्म की सबसे बड़ी निशानी क्युं बनी?

Md Umar Ashraf आजके रोज़ ही 1919 को जालियांवाला बाग़ में क़त्ल ए आम हुआ था। सैंकड़ो की तादाद में…

जलियांवाला बाग़ नरसंहार से पहले की कहानी जिसके डर से अंग्रेज़ों ने रची थी ये साजिश

9 अप्रैल 1919 को आयोजित रामनवमी की शोभायात्रा का आयोजन एक मुस्लिम डॉ. बशीर द्वारा किया जाना अंग्रेज हुकूमत को…

बेगम हज़रत महल : अंग्रेज़ों के झण्डे को दुनिया में सबसे पहले ज़मींदोज़ करने वाली।

हफ़ीज़ किदवई कुछ तारीख़ें सिर्फ़ तारीख़ भर नही होती बल्कि पूरे एक ज़माने का ढलना होती है। आज वही 7…

बाबु कुंवर सिंह के सबसे प्रमुख सिपहसालार थे क़ाज़ी ज़ुल्फ़िक़ार अली ख़ां।

Md Umar Ashraf बाबु कुंवर सिंह अपने सबसे ख़ास सिपहसालार काको (जहानाबाद) के शहीद काज़ी ज़ुल्फ़िक़ार अली ख़ां को कैथी…

Close
Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com